नई दिल्ली

एकऔर श्रद्धा जैसा दिल दहला देने वाला काण्ड मीडिया में गज़ब का सन्नाटा क्यूंकि आरोपी TRP बटरोने वाले विशेष समुदाय का नहीं, फ्रिज में काट के रखा शव.रोज फेंका एक टुकड़ा, मां-बेटा गिरफ्तार

एकऔर श्रद्धा जैसा दिल दहला देने वाला काण्ड मीडिया में गज़ब का सन्नाटा क्यूंकि आरोपी TRP बटरोने वाले विशेष समुदाय का नहीं, फ्रिज में काट के रखा शव.रोज फेंका एक टुकड़ा, मां-बेटा गिरफ्तार

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड जैसी जघन्य वारदात सामने आई है। यहां पांडव नगर में नशे की गोली खिलाकर एक युवक की हत्या कर दी गई। हत्या करने के बाद शव के टुकड़े फ्रिज में रखे गए और एक-एक कर रोज फेंके गए।

सोशल मीडिया पर इस घटना के संबंध में एक सीसीटीवी फुटेज भी वायरल है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। दिल्ली पुलिस अपराध शाखा के मुताबिक, दिल्ली के पांडव नगर में क्राइम ब्रांच ने पति की हत्या के आरोप में एक महिला और उसके बेटे को गिरफ्तार किया है। उन्होंने शव के कई टुकड़े कर रेफ्रिजरेटर में रखा और पास के मैदान में फेंक दिया। बताया जा रहा है कि दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में हत्या की घटना को अंजाम दिया गया है, यहां आरोपी का घर है। शव के 8-10 टुकड़े किए गए थे, अभी तक पुलिस को शव के 6 हिस्से मिले हैं।

आरोपी पूनम ने बताया कि वह (मृतक अंजन दास) मेरे बच्चों के साथ गलत करता था और गलत नीयत रखता था इसलिए मैंने ऐसा किया और मैंने नहीं मेरे बेटे ने उसे चाकू मारा।

बीते मई माह में दिल्ली के पांडव नगर स्थित रामलीला ग्राउंड और नाले में कई मानव अंग मिलने के मामले में क्राइम ब्रांच ने महिला समेत दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों के नाम पूनम और दीपक है। ये मानव अंग अंजन दास के थे। पूनम, अंजन दास की पत्नी है और दीपक बेटा है।

अंजन दास के कई महिलाओं से अवैध संबंध थे। उसे शराब में नशे की गोलियां मिलाकर पिलाई गई थी, उसके बाद हत्या कर चाकू से शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर कई जगह फेंक दिया गया था। जानकारी के मुताबिक, पूनम ने भी कई शादियां की थी।

पुलिस जांच में गत 30 मई को मानव अंग मिले थे। इस मामले में पुलिस को कुछ सीसीटीवी फुटेज मिले थे, जिसके आधार पर जांच करते हुए छह माह बाद दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। अब पुलिस अंजन दास का डीएनए प्रोफाइलिंग कराएगी।

जानकारी के मुताबिक,अंजन दास पर आरोप है कि वह अपने सौतले बेटे दीपक की पत्नी पर बुरी नजर रखता है। दीपक दरअसल, पूनम के पहले पति कल्लू का बेटा है। पत्नी पर गलत नजर रखने से दीपक अपने सौतले पिता अंजन दास से बहुत खफा था।

रवींद्र यादव (स्पेशल सीपी, क्राइम ब्रांच, दिल्ली) ने कहा कि अंजन दास लिफ्ट ऑपरेटर था जो पूनम और उसके बेटे दीपक के साथ रहता था। दीपक अंजन दास का असली पुत्र नहीं था। पूनम का सुखदेव से विवाह हुआ, जो दिल्ली आ गया। जब पूनम सुखदेव को ढूंढने दिल्ली आई तो उसे कल्लू मिला जिससे पूनम को 3 बच्चे हुए। 3 बच्चों में से दीपक एक है। कल्लू की लीवर फेल होने से मौत होने के बाद पूनम अंजन के साथ रहने लगी। पूनम को नहीं पता था कि अंजन का बिहार में परिवार है, उसके 8 बच्चे हैं। दीपक की पत्नी पर अंजन की बुरी नजर थी। इसी के चलते इन्होंने अंजन की हत्या की योजना बनाई।

महिला आरोपी पूनम और बेटे दीपक को उसके पति अंजन दास की त्रिलोकपुरी स्थित आवास पर हत्या करने और उसके शव को काटकर पास की जमीन में फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर में पति की हत्या करने और शव के 22 टुकड़े करने के आरोप में एक महिला को उसके बेटे के साथ गिरफ्तार किया गया है।

 

Related Articles

Close
×