राष्ट्रीय

अपने गुनाहों पे पर्दा डालता एक ऊँचे कद का शंहशाह !

पहले अहमदाबाद की झुग्गियों को ऊँची ऊँची दीवारों में दफ़न कर अपनी नाकामियों को ढका गया !

 

अब लखनऊ में बैकुंठ धाम शमशान को ढका जा रहा है.
क्यूंकि साहब के चम्चमाते व्यक्तित्व पे ये सब अच्छा नहीं लगता !

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
×